सरकारी नौकरी के योग । Government Job Yog in Kundli

govt job astrology prediction
Post Date: August 14, 2021

सरकारी नौकरी के योग । Government Job Yog in Kundli

सरकारी नौकरी के योग । Government Job Yog in Kundli

सरकारी नौकरी एक ऐसा विषय है जो हर एक स्टूडेंट का सपना होता है।,कुछ स्टूडेंट ऐसे होते हैं जो कम मेहनत करके भी सरकारी नौकरी पा लेते हैं किंतु कुछ स्टूडेंट ऐसे होते हैं जो अत्यधिक मेहनत करने के बाद सरकारी नौकरी नहीं पाते।जिसका एकमात्र कारण है कि उनकी पत्रिका में सरकारी नौकरी के योग का ना होना।या सरकारी नौकरी का योग तो होता है किंतु वह सक्रिय नहीं हो पाता।राज्य का कारक या सरकारी नौकरी का कारक सूर्य को बताया गया है।यदि पत्रिका में सूर्य की स्थिति मजबूत है और सूर्य सक्रिय है तथा अच्छा फल देने में सहायक है तो सरकारी नौकरी का योग बना देता है।किंतु सूर्य के साथ साथ कार्य क्षेत्र को भी देखा जाता है। अर्थात दशम भाव को भी देखा जाता है।कुंडली में दशमेश की स्थिति भी देखी जाती है।यदि कुंडली में सूर्य तथा दशम भाव में दशमेश की स्थिति अच्छी है तो सरकारी नौकरी का योग बनता है।सूर्य लग्न में चतुर्थ में पंचम में नवम में दशम में तथा लाभ भाव में अच्छी स्थिति में बताया गया है।,यदि सूर्य अष्टम में स्वयं की राशि में या मित्र राशि में हो तो भी सरकारी नौकरी का योग दे देता है।चलो अब इसे एक उदाहरण के द्वारा समझते हैं।

 

उदाहरण

यह एक मकर लग्न की पत्रिका है।जिसमें सूर्य भाग्य भाव अर्थात 9 में भाव में बैठा हुआ है।सूर्य बुध की राशि में बैठा हुआ है तथा बुध साथ में ही बैठा हुआ है जो बुधादित्य योग का निर्माण कर रहा है।सूर्य किसी भी पापक गृह के द्वारा पीड़ित नहीं है।अर्थात वह सरकारी नौकरी देने की स्थिति में है।अब देखते हैं दशम भाव तथा दशमेश की स्थिति क्या है?दशम भाव में तुला राशि बनती है जिसका अधिपति शुक्र बनता है तथा दशम भाव में मंगल तथा राहु बैठे हुए हैं।पत्रिका में मंगल बलवान है तथा राहु की डिग्री कम होने के कारण अंगारक योग जैसा फल नहीं मिलेगा।तथा दशमेश शुक्र भाग्य भाव में बुध के साथ बैठे हुए हैं तथा उनका नीच भंग हो रहा है।अर्थात नीच भंग राजयोग बनता है।और इस पत्रिका में शुक्र पर किसी भी पाप ग्रह की दृष्टि नहीं है।इसलिए यह जातक सरकारी नौकरी से है।इस जातक का बर्थ डिटेल निम्न प्रकार है।

 

Example

This is a Capricorn Ascendant magazine. In which the Sun is sitting in the Bhagya Bhava i.e. in the 9th division.

Sun is sitting in the sign of Mercury and Mercury is sitting together. Which is creating Buddhaditya Yoga. Sun is not afflicted by any malefic planet and he is in a position to give government job.

Now let us see what is the position of tenth house and tenth house? Libra is formed in the tenth house, whose ruler is Venus.

Mars and Rahu are sitting in the tenth house in which Mars is strong. Due to low degree of Rahu, the result like Angarak Yoga will not be available. And the tenth lord Venus is sitting with Mercury in the house of luck and his debilitation is getting disturbed. Due to which low broken Raja Yoga is formed.

And in this magazine there is no sight of any malefic planet on Venus. Therefore, this person is from a government job and the birth details of this person are as follows.

जन्मतिथि।- 30/9/1995,

जन्म समय।- 3:59pm,

जन्म स्थान!-गंगापुर राजस्थान

 

 

 

Astrologer Yogesh Tiwari

 

 

 

Share the post

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *