विवाह में समस्या आना | माता-पिताओं के लिए सबसे बड़ी समस्या | Marriage Astrology & Consultation Online

Post Date: June 1, 2021

विवाह में समस्या आना | माता-पिताओं के लिए सबसे बड़ी समस्या | Marriage Astrology & Consultation Online

विवाह में समस्या आना।

आजकल माता-पिताओं के लिए सबसे बड़ी समस्या बन चुकी है। अपने बच्चों का समय पर विवाह ना होना।केरियर के चलते या किसी समस्या के चलते बच्चे समय पर विवाह नहीं कर पाते हैं जिससे उनके विवाह की उम्र निकल जाती है जो उनके माता-पिताओं के लिए तथा उनके लिए समस्या बन जाती है।बच्चों के विवाह की उम्र 25 से 30 होती है, किंतु जब यही उम्र 33 – 34 वर्ष की आयु से ऊपर निकल जाती है तो एक चिंता का विषय बन जाती है।

 

जिसके कुछ ज्योतिषी कारण बताए गए हैं।बच्चों की पत्रिकाओं में सप्तम भाव, सप्तमेश तथा विवाह के कारक का पीड़ित होना इसका कारण है।,लड़के की पत्रिका में विवाह का कारक शुक्र होता तथा लड़की की पत्रिका में विवाह का कारक मंगल , गुरु होता है।जब उम्र और भी अधिक निकल जाती है जब शुभ ग्रहों की दृष्टि सप्तम भाव तथा सप्तमेश पर ना हो।यह स्थिति तब बनती है जब सप्तम भाव पर तथा सप्तमेश पर गुरु की दृष्टि नहि होती है।क्योंकि गुरु को ज्योतिष में सबसे शुभ ग्रह माना गया है तथा इसकी दृष्टि में अमृत बताया गया है।इसलिए मेरा सभी माता-पिताओं से निवेदन है कि अपने बच्चों की पत्रिका सही समय पर दिखाएं, जिससे उनके जीवन में आने वाली समस्याओं से अवगत हो सके तथा सही समय पर निवारण करवा सके।

 

उदाहरण- यह जातिका की पत्रिका है जो वृष लग्न की है।इस पत्रिका में सप्तम भाव में वृश्चिक राशि होगी।वहां का अधिपति मंगल अर्थात सप्तमेश मंगल बनेगा।सप्तमेश मंगल सप्तम में केतु के साथ बैठा हुआ है।पहले तो यह जातिका सप्तम भाव में मंगल बैठने से मांगलिक हुई।फिर मंगल के साथ केतु होने से अंगारक योग बन गया।जिससे सप्तम भाव तथा सप्तमेश दोनों पीड़ित हो गए।तथा अष्टम भाव में गुरु बैठे हुए हैं जिस पर शनि की तीसरी दृष्टि पड़ी हुई है जिससे गुरु भी पीड़ित हो गये है, पोस्ट में बताए गए उक्त तथ्य साबित होते हैं।क्योंकि इस जातिका का विवाह अभी तक नहीं हुआ है। यह जातिका 34 वर्ष की हो गई है।इस जातिका का जन्म विवरण निम्न प्रकार है।

जन्म दिनांक- 13/9/1984

जन्म समय- 11pm,

जन्म स्थान- Jabalpur Madhya Pradesh

Share the post

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *