गुरु पूर्णिमा के दिन होने वाला बेहद शक्तिशाली चंद्र ग्रहण।

Post Date: July 2, 2020

गुरु पूर्णिमा के दिन होने वाला बेहद शक्तिशाली चंद्र ग्रहण।

पूर्वा अषाढा नक्षत्र में चंद्र ग्रहण .  5 जुलाई

यह 5 जुलाई को शुरू होने वाला  ग्रीष्म  ऋतु का अंतिम ग्रहण है , जहां 21 जून को सूर्य ग्रहण के पहले हमने चंद्र ग्रहण का अनुभव किया था। यह चंद्र ग्रहण बेहद शक्तिशाली है क्योंकि यह गुरु पूर्णिमा के दिन होने वाला ग्रहण है।

चंद्र ग्रहण ध्यान चिंतन प्रार्थना मंत्र जप और अन्य साधनाओं के लिए एक बेहतरीन समय है। अपने भीतर झाकने और आध्यात्मिक प्रगति से खुद को जोड़ने और भौतिकवादी कार्यों से बचना बुद्धिमानी होगी। Full Moon Meditation 

नौकरी बदलनेए विवाह नए घर में जाने उच्च मूल्य की खरीदारीए निवेश आदि जैसे महत्वपूर्ण निर्णय लेने के लिए यह अनुकूल समय नहीं है।

पूर्वा अषाढा नक्षत्र धनु राशि में आता है। इस नक्षत्र की शक्ति “ऊर्जा को मज़बूत करना” है। इससे जुड़े जल देवता अपनी भावनाओं और आन्तरिक सफाई के साथ जुड़ा हुआ है।

यह ग्रहण आपको मंत्रों और मंत्रों की शक्ति से आपको लाभान्वित करेगा जब आप ग्रहण के दिन अपने आपको बेहतर बनाने के लिए समय देते हैं, तो यह पुराने घावों के उपचार में तेजी लाएगा ।  Full Moon Meditation 

अनुष्ठान और उपचार

व्यक्तिगत अनुष्ठानों और मंत्रों के लिए जिन्हें आप अपने स्वयं के जन्म चार्ट के आधार पर जाप कर सकते हैं ।

ग्रहण के 3 दिन पहले और बाद में महत्वपूर्ण निर्णय लेने या कुछ नया (भौतिक जीवनद्) शुरू करने से बचें।

अपने गुरु का सम्मान करें . यह ग्रहण सबसे शुभ गुरु पूर्णिमा के दिन हो रहा है जो हमको आध्यात्मिक होने अपने गुरू के लिए सम्मान और आभारी होने का दिन है।

Full Moon Meditation 

ग्रहण के बाद स्नान करें और नीचे दिए गए मंत्र का जाप करे।

श्गँगे च यमुने चैव गोदावरी सरस्वती।
नर्मदे सिन्धु कावीरी जले संस्मिन् संनिधिं कुरु ध
गंगगे कै यमुने सीवा गोदावरी सरस्वती द्य
नर्मदे सिंधु कावेरी जलेस्मिन सनिधिम कुरु द्यद्य

Full Moon Meditation 

ये चन्द्र ग्रहण सुबह आठ बजकर 37 मिनट से शुरू होकर 9 बजकर 59 ओर 11 बजकर 22 मिनट पर समाप्त होगा। ये चन्द्र ग्रहण भारत मे देखाई नहीं देगा क्योंकि ये सुबे के वक्त होने जा रहे।

About Astrologer Sanjay Agarwal

Learn More

Consultancy 

 

Share the post

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *